समाचार
संसद के शीतकालीन सत्र में 5वें दिन भी राहुल गांधी अनुपस्थित, भाजपा ने उठाए सवाल

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने 18 नवंबर से शुरू हुए संसद के शीतकालीन सत्र में एक दिन भी हिस्सा नहीं लिया है। राहुल की अनुपस्थिति पर अब भाजपा ने सवाल उठाए हैं।

एशियन न्यूज इंटरनेशनल (एएनआई) की रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के लोकसभा में लगातार अनुपस्थित रहने पर सवाल उठाते हुए भाजपा सांसद जगदम्बिका पाल ने जोर देकर कहा, “इन युवा नेताओं का रवैया बहुत निराशाजनक है।”

पुराने नेता सदन में नियमित रूप से उपस्थित होते हैं और संबंधित निर्वाचन क्षेत्रों में सक्रिय रहते हैं, इस बात पर जोर डालते हुए उन्होंने कहा, “जनता चुनाव करती है और हमें संसद में भेजती है। इस वजह से कि हम सदन में उनके मुद्दों को उठाते हैं और कुछ समाधान खोजते हैं।”

उधर, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, “कांग्रेस पार्टी के पास न तो नीति है और न ही नेतृत्व। राहुल गांधी की संसद से लगातार गैर मौजूदगी यह दर्शाती है कि संसद को लेकर वह कितना गम्भीर हैं।”

इस बात पर गौर किया जाना चाहिए कि संसद, शीतकालीन सत्र की शुरुआत के बाद से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में वायु प्रदूषण के संकट, जम्मू-कश्मीर की स्थिति जैसे कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा और बहस हुई।