समाचार
यूएई-पाकिस्तान के बिगड़ते संबंधों के कारण वीज़ा नियम कड़े, पाकिस्तानियों की गिरफ्तारी

प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व वाले इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ पाकिस्तान को संयुक्त अरब अमीरात ने एक बड़ा झटका दिया है। यूएई उन पाकिस्तानी नागरिकों के लिए सख्त वीज़ा मानदंडों को लागू करने जा रहा है, जो रोज़गार के लिए अमीरात की यात्रा करना चाहते हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, बिगड़ते द्विपक्षीय संबंधों के बीच संयुक्त अरब अमीरात खाड़ी साम्राज्य में फिलिस्तीन समर्थक पाकिस्तानी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर रहा है। अमीराती सरकार को पाकिस्तानी नागरिकों को मामूली अपराधों के लिए भी गिरफ्तार करने को कहा गया है। कहा जाता है कि 5,000 पाकिस्तानी कैदियों को अबू धाबी की अल सेवीहान जेल में रखा गया है।

पाकिस्तान के खिलाफ यह सख्त रवैया अबूधाबी में प्रधानमंत्री इमरान खान के यूएई और इज़राइल के बीच द्विपक्षीय रिश्तों की आलोचना के बाद और भी बढ़ गया। इसके जवाब में यूएई ने पाकिस्तानी नागरिकों को देश से बाहर किए जाने के लिए भी कहा। हालाँकि, अभी तक इस तरह के बड़े कदम उठाने की कोई सूचना नहीं मिली है।

दोनों देशों के बीच खत्म होते रिश्तों को सुधारने के लिए पाकिस्तान के राजदूत गुलाम दस्तगीर ने हाल ही में संयुक्त अरब अमीरात में वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की थी। हालाँकि, उन्हें कथित तौर पर वापस जाने के लिए कह दिया गया था। यह गौर किया जाना चाहिए कि पाकिस्तान के साथ सऊदी अरब के खराब होते संबंधों का असर यूएई के साथ रिश्तों पर भी पड़ रहा है।