समाचार
‘अमूल्य दोस्त’ चीन को मसूद अज़हर को बचाने के लिए पाक विदेश मंत्री का धन्यवाद

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने चीन को अमूल्य दोस्त बताते हुए धन्यवाद कहा है। इस धन्यवाद ज्ञापन का कारण है कि चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अज़हर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादियों की सूची में शामिल करने से रोका है।

एक वीडियो ट्विटर पर डाला गया है जिसमें शाह महमूद कुरैशी चीन को धन्यवाद देते हुए देखे जा सकते हैं और उन्होंने चीन को अमूल्य दोस्त भी कहा है।

चीन ने फ़िलहाल संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को यह काम करने से रोका हुआ है और दस्तावेज़ों की एक बार फिर जाँच करने के लिए कहा है। हालाँकि चीन की यह हरकत फ्रांस को रोकने में असफल रही। चीन के बार-बार बाधा डालने के बाद भी फ्रांस ने मसूद अज़हर की संपत्ति को ज़ब्त कर लिया है।

फ्रांस के विदेश मंत्रालय, वित्त मंत्रालय एवं आंतरिक मंत्रालय ने संयुक्त बयान में बताया है कि वह  मसूद अज़हर को यूरोपीय संघ की आतंकी सूची में शामिल करने का प्रयास करेंगे। इसके साथ ही पाकिस्तान पर जैश-ए-मोहम्मद सहित अन्य आतंकी संगठनों पर कार्रवाई करने के लिए पूरे विश्व को दबाव है।