समाचार
पाकिस्तान भारतीय को करना चाहता था आतंकी साबित, अमेरिका ने समाप्त किया प्रस्ताव

पाकिस्तान को एक बड़ा झटका देते हुए संयुक्त राज्य अमेरिका ने कथित तौर पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की 1267 प्रतिबंध समिति द्वारा वैश्विक आतंकवादी के रूप में भारतीय नागरिक के खिलाफ मुकदमा चलाने के प्रस्ताव पर रोक लगा दी है।

एएनआई ने सूत्रों के हवाले से जानकारी दी कि भारतीय नागरिक के खिलाफ पर्याप्त सबूत पेश करने में विफल रहने के बाद अमेरिका ने पाकिस्तान के प्रस्ताव को रोक दिया और उसे समाप्त कर दिया।

अमेरिका ने पिछले वर्ष सितंबर में इस प्रस्ताव को तकनीकी होल्ड पर रख दिया था। अमेरिका ने अब पाकिस्तान के प्रस्ताव को समाप्त करने के बारे में सुरक्षा परिषद के सदस्यों को अवगत करा दिया है।

रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान भारतीय नागरिक को संयुक्त राष्ट्र की आतंकी सूची में डालने पर जोर दे रहा है। हालाँकि, अफगानिस्तान में सक्रिय भारतीय कंपनी में एक इंजीनियर के रूप में काम कर रहे भारतीय नागरिक को आतंकी समूह बताने के लिए किसी भी नये सबूत को पेश करने में वह विफल रहा।

यूएनएससी 1267 समिति की स्थापना अफगानिस्तान में संचालित आतंकी समूहों जैसे आईएसआई, अल-कायदा और अन्य पर निगरानी के उपायों के लिए की गई थी। जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मौलाना मसूद अजहर को 2017 में वैश्विक आतंकवादी के रूप में नामित किए जाने के बाद पाकिस्तान बार-बार भारतीय नागरिकों को उसकी धरती पर आतंकवाद के कृत्यों के साथ जोड़ने की कोशिश कर रहा है।