समाचार
गिलगित-बाल्टिस्तान में पाकिस्तान ने की चुनाव की घोषणा, भारत ने कहा, “अभिन्न भाग”

पाकिस्तान ने भारत के कड़े विरोध के बीच गिलगित-बाल्टिस्तान की विधानसभा के लिए 15 नवंबर को चुनाव करवाने की घोषणा की। राष्ट्रपति डॉक्टर आरिफ अल्वी ने बुधवार (24 सितंबर) को इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, बयान में कहा गया कि पाकिस्तान इस्लामी गणतंत्र के राष्ट्रपति घोषणा करते हैं कि चुनाव अधिनियम 2017 की धारा 57 (1) के तहत गिलगित-बाल्टिस्तान विधानसभा में आम चुनाव कराए जाएँगे।

इस पर भारत ने कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा, “गिलगित-बाल्टिस्तान समेत जम्मू-कश्मीर व लद्दाख संघ शासित प्रदेश के संपूर्ण भूभाग का भारत में पूर्ण रूप से वैधानिक और स्थायी विलय हुआ था। इस वजह से यह देश का अभिन्न हिस्सा है। पाकिस्तान की सरकार या न्यायपालिका का उस पर कोई अधिकार नहीं, जिन पर अवैध कब्ज़ा किया गया था।”

चुनाव की तिथियों की फैसला गिलगित-बाल्टिस्तान को पूर्ण प्रांत का दर्जा दिए जाने की खबरों के बीच में ही लिया गया था। इस मुद्दे पर विपक्षी दलों और पाकिस्तान सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के बीच 16 सितंबर को हुई बैठक में चर्चा की गई थी।

हालाँकि, विपक्ष ने इस मौके का उपयोग अन्य मुद्दों को लेकर अपनी चिंताओं को जाहिर करने के लिए किया था। इनमें खास तौर पर सियासत में सेना के कथित दखल और जवाबदेही के नाम पर उसके नेताओं का उत्पीड़न शामिल था।