समाचार
जम्मू के वायुसेना स्टेशन पर दो धमाके में पाकिस्तान पर शंका, एनआईए ने शुरू की जाँच

जम्मू स्थित वायुसेना स्टेशन के तकनीकी परिसर में रविवार तड़के (27 जून) पाँच मिनट के अंतराल में दो धमाके हुए। इसमें दो लोग मामूली घायल हुए और स्टेशन के दो बैरक क्षतिग्रस्त हो गए। इसको लेकर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया। साथ ही जाँच शुरू करने के लिए एनआईए की टीम भी पहुँच गई।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, आशंका जताई जा रही कि हमलों के लिए ड्रोन का उपयोग हुआ है। दोनों धमाके एयरपोर्ट के भीतर हुए। एक विस्फोट इमारत की छत के ऊपर किया गया। दूसरा विस्फोट इमारत के खुले परिसर में किया गया। ड्रोन से हुए हमले की खबरों के कारण पाकिस्तान पर शंका गहराती जा रही है।

इसके बाद श्रीनगर और पंजाब के पठानकोट स्थित वायुसेना स्टेशन को भी उच्च सतर्कता पर रखा गया। विस्फोट के बाद वायुसेना ने ट्वीट किया कि कम तीव्रता वाले दो विस्फोट हुए थे। हालाँकि, हमले में किसी भी उपकरण के नुकसान न होने की जानकारी दी गई थी।

अधिकारियों ने बताया कि विस्फोटों में पाकिस्तान के आतंकियों की संलिप्तता की भी जाँच की जा रही है। वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया को भी विस्फोटों के बारे में अवगत करवाया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि जम्मू में एक संदिग्ध आतंकी को त्रिकूट नगर क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया, जो बनिहाल निवासी है। उसके पास से कुछ विस्फोटक सामग्री मिली है।