समाचार
पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में भारत पर लगाया कश्मीर में जनसांख्यिकी परिवर्तन का आरोप

पाकिस्तान ने फिर से कश्मीर की बात छेड़ते हुए संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारियों को एक पत्र लिखा है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी द्वारा लिखे गए पत्र में आरोप लगाया गया है कि भारत कश्मीर में जनसांख्यिकी को जबरदस्ती परिवर्तित कर रहा है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान ने बताया कि इस पत्र को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष और संयुक्त राष्ट्र महासचिव को भेजा गया है। वह चाहता है कि यूएन के दबाव में आकर भारत पुनः कश्मीर में अनुच्छेद 370 को बहाल कर दे।

कुरैशी ने पत्र में आरोप लगाया कि भारत कल्पित अधिवासी प्रमाण-पत्र जारी करके व अन्य उपायों के माध्यम से कश्मीर में जनसांख्यिकी की संरचना को बदल रहा है। उन्होंने सुरक्षा परिषद से अनुरोध किया कि वह भारत को 5 अगस्त 2019 को उठाए गए कदमों को बदलने को कहे।

कुरैशी ने इस पर भी बल दिया कि पाकिस्तान के साथ परिणामोन्मुखी संबंध के लिए अनुकूल वातावरण बनाने की ज़िम्मेदारी भारत पर है। “हम भारत सहित अपने सभी पड़ोसियों के साथ शांतिपूर्ण संबंध चाहते हैं।”, पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने आगे कहा।