समाचार
इमरान खान बोले, “आरएसएस के हिंदू राष्ट्र की योजना है नागरिकता संशोधन विधेयक”

लोकसभा से पास हुए नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 का पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट करते हुए विरोध किया है। इससे पहले पड़ोसी देश अनुच्छेद 370 को हटाए जाने पर दुनियाभर में भारत की आलोचना कर चुका है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, इमरान खान ने ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधा है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह विधेयक दोनों देशों के बीच हुए समझौते का खिलाफ है।

ट्वीट में उन्होंने कहा, “मैं कड़े शब्दों में भारतीय लोकसभा के नागरिकता संशोधन विधेयक की निंदा करता हूँ। यह ना केवल अंतर-राष्ट्रीय मानवाधिकार कानून का बल्कि पाकिस्तान के साथ हुए द्विपक्षीय समझौते का भी उल्लंघन करता है। यह आरएसएस के हिंदू राष्ट्र की योजना का हिस्सा है, जिस पर मोदी सरकार काम कर रही है।”

इससे पूर्व, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इसका विरोध किया था। उसने कहा था, “यह विधेयक दोनों देशों की बीच हुए सभी समझौतों का पूरी तरह से उल्लंघन करता है। यह खासतौर से अल्पसंख्यकों के अधिकारों और उनकी सुरक्षा के लिए चिंताजनक है।”

लोकसभा ने सोमवार को जो विधेयक पास किया, उसके तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आने वाले हिंदू, बौद्ध, जैन, पारसी, सिख, ईसाई शरणार्थियों को अब भारत की नागरिकता मिलने में आसानी होगी।