समाचार
पाकिस्तान- संसद में सेना प्रमुख बाजवा की सेवा अवधि बढ़ाने वाला बिल पास

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली ने देश की संसद के निचले सदन में सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को फिर से तीन वर्ष का सेवा विस्तार देने के लिए तीन महत्वपूर्ण विधेयक पारित कर दिए।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, बाजवा कथित तौर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी विश्वासपात्र हैं। तीन साल के मूल कार्यकाल के अंत में पिछले साल 29 नवंबर 2019 को उन्हें सेवानिवृत्त होना था।

क्षेत्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए इमरान खान ने 19 अगस्त को एक अधिसूचना जारी कर उन्हें एक और सेवा विस्तार दे दिया था। बाद में इसे सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी गई। न्यायालय ने सरकार के निर्देश को इस आधार पर खारिज कर दिया कि सेना प्रमुख को विस्तार देने के लिए कोई कानून नहीं है।

हालाँकि, न्यायालय ने बाजवा को छह महीने की मोहलत तब दी, जब सरकार ने भरोसा दिलाया कि सेना प्रमुख के कार्यकाल को बढ़ाने के लिए संसद द्वारा एक कानून पारित किया जाएगा।

विधेयक पारित होने के बाद पाकिस्तान सेना (संशोधन) विधेयक 2020, पाकिस्तान वायुसेना (संशोधन) विधेयक 2020 और पाकिस्तान नौसेना (संशोधन) विधेयक 2020 सदन में पेश किया गया। निचले सदन में इसके पास होने के बाद अब यह संसद के ऊपरी सदन सीनेट के पास जाएगा।

दोनों सदनों द्वारा मंजूरी दिए जाने के बाद विधेयकों को अंतिम मंजूरी के लिए राष्ट्रपति के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। हालाँकि, जिस हड़बड़ी में यह बिल पास किया गया, वह पाकिस्तान के कई लोगों को ठीक नहीं लगा।

पाकिस्तानी पत्रकार नैला इनायत ने निचले सदन में सेना संशोधन विधेयक पारित किए जाने पर प्रश्न चिह्न लगाया। उन्होंने ट्वीट किया, “सिर्फ 30 सेकेंड में, हाँ 30 सेकेंड में पाकिस्तान की नेशनल असेंबली ने सेना संशोधन विधेयक पारित कर दिया, जो जनरल बाजवा के विस्तार का मार्ग प्रशस्त कर रहा है।”