समाचार
एलओसी पर घुसपैठ की कोशिश फिर नाकाम, पाकिस्तानी गोलाबारी में दो जवान हुतात्मा

पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी की आड़ में फिर से सोमवार (16 दिसंबर) को एलओसी पर घुसपैठ की कोशिश को सेना ने नाकाम कर दिया। हालाँकि, पाकिस्तानी गोलाबारी में दो जवान वीरगति को प्राप्त हो गए। सेना ने जवाबी कार्रवाई में दो पाकिस्तानी सैनिक और तीन घुसपैठिए मार गिराए। वहीं, उनके चार अन्य सैनिक घायल हैं।

अमर उजाला  की रिपोर्ट के अनुसार, सैन्य प्रवक्ता ने जानकारी दी कि पड़ोसी देश की कई चौकियाँ भी भारतीय हमले में तबाह हुई हैं। सुंदरबनी सेक्टर के केरी बट्टल इलाके में सोमवार की शाम को संदिग्ध हलचल देखी गई। वहाँ आतंकियों का एक दल घुसपैठ की कोशिश कर रहा था। इसी बीच, पाकिस्तान की ओर से गोलाबारी शुरू हो गई। इसमें एक जवान वीरगति को प्राप्त हुआ।

उधर, उत्तरी कश्मीर में एलओसी पर सोमवार को भारी गोलाबारी में गुरेज सेक्टर में 6 मराठा लाई के महाराष्ट्र के हवलदार सीजे गणपति वीरगति को प्राप्त हो गए। गुरेज सेक्टर के बखतूर इलाके में पाकिस्तान ने रविवार दोपहर से गोली-विराम का उल्लंघन किया, जो रात भर जारी रहा। गोलाबारी में कुछ घरों को नुकसान पहुँचा। सोमवार सुबह गोलाबारी रुक गई लेकिन शाम चार बजे दोबारा शुरू हो गई। यह सिलसिला देर रात तक जारी रहा।

सैन्य प्रवक्ता के अनुसार, सोमवार की सुबह करीब 10 बजे पाकिस्तानी सेना ने मेंढर सब डिवीजन के कृष्णा घाटी सेक्टर की मनकोट तहसील के दबराज, नाड़मनकोट, चोई मनकोट, बलनोई आदि क्षेत्रों में सेना की चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बना कर मोर्टार दागने शुरू कर दिए। सेना की तरफ से की गई कार्रवाई में नियंत्रण रेखा के उस पार स्थित दराशेर खान क्षेत्र में दो पाकिस्तानी सैनिक मारे गए। चार अन्य गंभीर रूप से घायल हैं।