समाचार
पाकिस्तान ने भारत के लिए अपने एयरस्पेस पर प्रतिबंध की अवधि 15 जून तक बढ़ाई

पाकिस्तान ने भारतीय उड़ानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल पर प्रतिबंध की अवधि फिर बढ़ा दी है। अब 15 जून तक वह अपने एयरस्पेस भारत के लिए बंद रखेगा। टीओआई  की रिपोर्ट के अनुसार, 27 फरवरी से लागू प्रतिबंध की गुरुवार को समीक्षा की गई, जिसके बाद यह फैसला लिया गया।

इस तरह गर्मियों में दक्षिणी एशिया के कुछ हिस्सों (दिल्ली और पश्चिम) से उड़ान भरने वाले यात्रियों को कम यात्रा समय और एयरलाइंस को उड़ान में आने वाले अतिरिक्त खर्चे में कोई राहत नहीं मिलेगी।

रोज छह करोड़ रुपये के हो रहे अतिरिक्त व्यय के बाद एयर इंडिया (एआई) ने निर्णय लिया कि दिल्ली-शिकागो नॉनस्टॉप उड़ान 1 जून से स्टॉकहोम में ईंधन के लिए रुकेगी। इसका ठहराव 75 मिनट का होगा।

इसी तरह दिल्ली-न्यूयॉर्क उड़ान वियना में रुकेगी। उत्तर अमेरिकी उड़ानों ने अतिरिक्त खर्चे की वजह से दिल्ली की उड़ाने रद्द कर दी थीं। प्रतिबंध की वजह से 14 जून से 1 अगस्त के बीच एयर कनाडा अपनी दैनिक दिल्ली-टोरंटो उड़ान का भी संचालन नहीं करेगा।

यूनाइटेड की दिल्ली-नेवार्क उड़ान अप्रैल की शुरुआत से इसी कारण से निलंबित है और 2 जुलाई को फिर से शुरू होने की उम्मीद है। 91 दिनों में एआई को अब तक 550 करोड़ रुपये से अधिक की मार झेलनी पड़ी है।

एयर इंडिया ने कहा, “पाकिस्तान के प्रतिबंध ने हमें दो तरह से प्रभावित किया है। पहला यह कि यूरोप और अमेरिका की उड़ान भरने के लिए हमें लंबे रास्तों को चुनना पड़ता है। इससे ज्यादा ईंधन, चालक दल की ज़रूरतों की वजह से दैनिक अतिरिक्त व्यय बढ़ रहा है और ठहराव की ज़रूरत पड़ती है। दूसरा यह कि प्रतिबंध की वजह से हम कुछ उड़ानों को संचालित करने में सक्षम नहीं हैं क्योंकि अब हमें कुछ छोटे विमानों को भेजना पड़ रहा है, जहाँ हमारे बड़े आकार वाले विमान जाते थे। “