समाचार
गुजरात- “बाहरी ईसाइयों का आना मना है”, धर्मांतरण रोकने के लिए ग्रामीणों ने लगाए बोर्ड

गुजरात के एक जनजातीय गाँव में “बाहरी ईसाइयों का आना मना है” के पोस्टर देखने को मिले हैं। नवसारी जिले के गंडोवा गाँव में यह बोर्ड जनजातीय हिंदुओं ने लगाए हैं और उनका कहना है कि इससे बाहरियों को गाँव में आकर जनजातीय हिंदुओं का धर्मांतरण करने से रोका जा सकेगा, इंडियन एक्सप्रेस  ने बताया।

गाँव प्रवेश स्थान पर हरिपुरा सड़क पर लगाए इस बोर्ड पर गुजराती में लिखा है, “क्रिस्टी धर्म परनारा तमाम भाई-बहनों गंडेवा हरिपुरा फलिया मा बहारणो कोईपण व्यक्ति ई फलिया मा प्रवेश करवो नाही।” 7,500 की जनसंख्या वाले इस गाँव में अधिकांश हलपति समुदाय की अनुसूचित जनजाति हैं और कुछ बक्षीपंच के हैं।

गाँव के सरपंच सतीश कटारिया ने इंडियन एक्सप्रेस  को बताया कि लगभग आठ वर्ष पूर्व पहले ईसाई प्रार्थना भवन के निर्माण से धर्मांतरण शुरू हुआ। “पाँच साल पहले दूसरा प्रार्थना भवन भी बना, तीसरा प्रार्थना भवन हाथवाड़ा सड़क पर बना और लगभग डेढ़ साल पहले खारेल सड़क पर चौथा प्रर्थना भवन बना। स्थानीय हिंदू नहीं चाहते कि हरिपुरा सड़क पर भी ऐसा प्रार्थना भवन बने इसलिए उन्होंने यह बोर्ड लगाया है।”

सोमवार को पुलिस ने गाँव का दौरा कर यह सुनिश्चित कर लिया है कि किसी प्रकार के धार्मिक विवाद के कारण झगड़ा न हो। साथ ही इन पोस्टरों को हटाने की कोई बात नहीं हुई है।