समाचार
मेक इन इंडिया- ओप्पो करेगी दोगुना उत्पादन, भारत को बनाएगी विश्व निर्यात का केंद्र

चीनी स्मार्टफोन की दिग्गज कंपनी ओप्पो ने घोषणा की है कि वह अपनी उत्पादन क्षमता का भारत में विस्तार करेगी। उसने 2020 तक देश में वर्तमान उत्पादन को 5 करोड़ यूनिट से 10 करोड़ बढ़ाकर दोगुना करने का लक्ष्य रखा है।

आईएएनएस की रिपोर्ट के अनुसार, ओप्पो इंडिया के उत्पाद और विपणन के उपाध्यक्ष सुमित वालिया ने कहा, “हम रणनीतिक रूप से प्रतिभा, विनिर्माण व अनुसंधान और विकास में निवेश करके भारत में अपनी उपस्थिति को मजबूत कर रहे हैं। ग्रेटर नोएडा विनिर्माण सुविधा में 2200 करोड़ रुपये का निवेश चल रहा है। भारत को ओप्पो के लिए वैश्विक निर्यात केंद्र बनाने की उम्मीद है।”

कंपनी की विस्तार योजना 15,000 लोगों के लिए देश में रोजगार के अवसर पैदा करेगी। वर्तमान में कंपनी भारतीय बाजार के 9.7 प्रतिशत हिस्सेदारी को नियंत्रित करती है, जो बाजार में शियोमी के साथ सैमसंग और वीवो से भी पीछे है। भारतीय बाजार में एक मजबूत हिस्सेदार के रूप में ओप्पो का ऑनलाइन उप ब्रांड रियलमी है।

कंपनी अपने ग्रेटर नोएडा की सुविधा का उपयोग करके अफ्रीका, मध्य पूर्व और दक्षिण एशिया में अपने बाजारों को उत्पादों की आपूर्ति करना चाहती है।