समाचार
चुनावी वादा पूरा करते हुए- 1 रुपये का सैनिटरी नैपकिन होगा 5,500 केंद्रों पर उपलब्ध

लोकसभा चुनाव 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए वादे को पूरा करने की दिशा में कार्य करते हुए केंद्र देश भर के 5,500 जन औषधि केंद्रों में 1 रुपये की सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध करवाएगी।

सरकार ने 2018 में जन औषधि सुविधा ऑक्सो-बायोडिग्रेडेबल सैनिटरी नैपकिन को 2.5 रुपये में उपलब्ध करवाया था लेकिन अब इसका मूल्य घटाकर 1 रुपये कर दिया गया है जिससे अधिकाधिक महिलाएँ इसका उपयोग कर सकें। इन पैड में एक विशेष तत्व होता है जो उन्हें फेंके जाने के बाद ऑक्सीजन के संपर्क में आने पर बायोडिग्रेडेबल बनाता है।

लगभग 2.8 करोड़ लड़कियाँ इस सुवाधा के अभाव के कारण पढ़ाई छोड़ देती हैं, रसायन एवं खाद राज्य मंत्री मनसुख मांडविया ने लॉन्च समारोह में कहा। सस्ती जेनरिक दवाइयाँ उपलब्ध कराने वाले जन औषधि केंद्रों से 31 जुलाई 2019 तक 1.3 करोड़ सैनिटरी पैड बेचे गए थे।

साथ ही जन औषधि सुगम मोबाइल ऐप भी लॉन्च की गई है जो लोगों को गूगल मैप की सहायता से इन केंद्रों पर पहुँचने, दवाइयों की उपलब्धि जानने, जेनरिक व ब्रांडेड दवाइयों में मूल्य तुलना करने जैसी सुविधा प्रदान करेगी। यह ऐप आईओएस और एंड्रॉयड दोनों के लिए उपलब्ध है।