समाचार
अफगानिस्तान- गुरुद्वारे पर हमला करने वाले आतंकियों में से एक केरल का

अफगानिस्तान के काबुल में हरराय साहिब गुरुद्वारा में आत्मघाती हमला करने वाले आईएसआईएस आतंकियों में से एक भारतीय भी था। इस हमले में 25 सिखों की मौत हो गई थी।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, आतंकी संगठन की ओर से हमले को अंजाम देने वाले जिन तीन आतंकियों का नाम लिया गया है, उनमें एक भारतीय का भी नाम शामिल है। उसने आतंकी का नाम अबु खालिद अल-हिंदी बताया है। उसका असली नाम मोहम्मद मुहसिन है, जो केरल का रहने वाला था।

वह कुछ समय पहले आतंकी संगठन में शामिल हुआ था। आईसआईएस ने अपनी पत्रिका अल-नाबा में मोहम्मद मुहसिन की तस्वीर भी छापी है। इसमें वह अपने बाएँ हाथ में राइफल लिए और दाएँ हाथ की एक उंगली उठाए हुए नज़र आ रहा है।

केरल पुलिस के सूत्रों ने बताया, “यह तस्वीर 21 वर्षीय मुहसिन की है। अभी तक माना जा रहा था कि वह पिछले साल जून में अफगानिस्तान में हुए ड्रोन हमले में मारा गया था।”

बता दें कि इससे पूर्व, अगस्त 2015 में युसुफ अल-हिंदी उर्फ शफी अरमार रक्का में आत्मघाती हमले में मारा जा चुका है। वह इंडियन मुजाहिद्दीन में रह चुका था। वह पहला भारतीय था, जिसको अमेरिका ने वैश्विक आतंकी घोषित किया था।