समाचार
“शहीद का दर्जा मिलेगा कोरोनावायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे योद्धाओं को”- नवीन पटनायक

ओडिशा सरकार ने कोरोनावायरस के खिलाफ जंग लड़ने वाले चिकित्सकों और सभी स्वास्थ्यकर्मियों को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने घोषणा कि यदि महामारी के खिलाफ लड़ने के दौरान किसी की मौत हो जाती है तो उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाएगा और राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कोविड-19 के खिलाफ जंग में उतरे योद्धाओं के 50 लाख रुपये के बीमा की घोषणा भी की है। उन्होंने कहा, “भारत सरकार की पहल के साथ राज्य सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि सभी स्वास्थ्यकर्मियों (निजी और सार्वजनिक) और अन्य सभी ज़रूरी सेवाओं के सदस्यों को 50 लाख रुपये दिए जाएँगे, जो कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अपनी जान गँवा देंगे।

नवीन पटनायक ने कहा, “कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में मरने वाले सभी स्वास्थ्यकर्मियों को राज्य सरकार शहीद का दर्जा देगी। यही नहीं, उनके बलिदानों को देखते हुए एक सम्मान के गठन की भी विस्तृत योजना है। इन पुरस्कारों को राष्ट्रीय दिवस पर दिया जाएगा।”

उन्होंने चेतावनी दी कि स्वास्थ्यकर्मियों के खिलाफ कोई भी हिंसा राज्य के खिलाफ किया जाने वाला कार्य है। अगर कोई भी व्यक्ति उनके काम में खलल डालेगा या अपमान करेगा तो उसके खिलाफ आपराधिक कार्रवाई की जाएगी, जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के प्रावधान शामिल हैं।