समाचार
श्रीनगर में कोई हिंसा नहीं, अजीत डोभाल सुरक्षा व्यवस्था देखने जम्मू-कश्मीर रवाना

सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त के बाद श्रीनगर में हिंसा की कोई घटना सामने नहीं आई है। जम्मू-कश्मीर को मिले विशेष राज्य का दर्जा सोमवार को हटा दिया गया। अब वह केंद्र शासित प्रदेश हो गया है, जिसको लेकर वहाँ कई दिनों पहले से सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे।

पत्रकार आदित्य राज कौल की रिपोर्ट के अनुसार, श्रीनगर शांत है और शहर के छात्रों ने अपने कॉलेज वापस जाने की इच्छा व्यक्त की है। इस पर प्रशासन छात्रों को कॉलेज से आने-जाने के लिए बसें उपलब्ध करवाएगा।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट के अनुसार, कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए कश्मीर रवाना हो गए हैं। बताया जा रहा है कि वह व्यक्तिगत तौर पर वहाँ पहुँचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेंगे।

पहले यह बताया गया था कि अनुच्छेद 370 को खत्म करने के बाद उत्तर प्रदेश, ओडिशा, असम और देश के अन्य हिस्सों से करीब 8,000 अर्धसैनिक बलों को कश्मीर घाटी में एयरलिफ्ट और स्थानांतरित किया गया है।