समाचार
मॉडर्ना ने किया महामारी रोकने में अपनी वैक्सीन के 94.5 प्रतिशत कारगर होने का दावा

कोरोनावायरस की वैक्सीन बना रही बायोटेक कंपनी मॉडर्ना ने कहा है कि उनके द्वारा तैयार की जा रही दवाई कोविड-19 महामारी को रोकने में 94.5 प्रतिशत तक कारगर है। यह दावा क्लीनिकल परीक्षण के आधार पर किया जा रहा है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, मॉडर्ना के सीईओ स्टीफन बैंसेल ने कहा, “कंपनी ने 30,000 लोगों पर वैक्सीन का परीक्षण किया। तीसरे चरण के विश्लेषण में यह बात सामने आई कि वैक्सीन महामारी को रोक सकती है।”

अब मॉडर्ना कंपनी की कोशिश है कि वह अमेरिका समेत दुनियाभर में स्वीकृति के लिए आपातकालीन आवेदन करें। उनका लक्ष्य अगले वर्ष के अंत तक 2 करोड़ खुराक का उत्पादन करना है।

बता दें कि इससे पूर्व, फाइज़र की वैक्सीन ने भी कोरोना के खिलाफ 90 प्रतिशत से अधिक प्रभाव दिखाया है। माना जा रहा कि अमेरिका दिसंबर तक दो वैक्सीन को आपातकालीन स्वीकृति दे सकता है। वर्ष के अंत तक वैक्सीन के 6 करोड़ डोज उपलब्ध हो जाएँगे।