समाचार
डीटीएच बेस पैक चुनने में ग्राहकों को पूर्ण स्वतंत्रता, ट्राई ने जारी किया निर्देश

टेलीकॉम टॉक की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) केबल ऑपरेटरों और डायरेक्ट-टू-होम (डीटीएच) प्रदाताओं पर हावी हो चुकी है क्योंकि सैकड़ों ग्राहकों ने शिकायतें दर्ज की हैं कि ये प्लेटफ़ॉर्म उन्हें अपने आधार पैक को स्थानांतरित करने की अनुमति नहीं दे रहे हैं और इसके बजाय अपने मौजूदा पैकेज पर चैनल जोड़ने के लिए कह रहे हैं।

शिकायतों के बाद भारत में नियामक निकाय डीटीएच प्रदाताओं को 25 दूरदर्शन चैनलों को छोड़कर सब्सक्राइबर बेस पैक में अतिरिक्त चैनल जोड़ने की अनुमति नहीं देगा। इसके अलावा ट्राई ने सेवा प्रदाताओं को उन शिकायतों के समाधान के लिए कॉल सेंटर स्थापित करने के लिए भी कहा है ताकि उपभोक्ताओं की समस्या का हल निकल सके।

ट्राई ने कहा, “प्राधिकरण को सूचित किया गया है कि कुछ सेवा प्रदाता कुछ पैकेजों का  ज़बरन इस्तेमाल हैं जो पहले 100 चैनलों के भीतर विकल्प को चुनने की अनुमति नहीं देते हैं और  कुछ एफटीए चैनल प्रदान करते हैं भले ही उपभोक्ता के विकल्प में ये मौजूद हों या न हों।”

ट्राई ने कहा, “प्राधिकरण ऐसे मामलों पर ध्यान देगा और वितरण प्लेटफॉर्म ऑपरेटर (डीपीओ) को नियमों का पालन करने और उपभोक्ता की पसंद को सशक्त बनाने का निर्देश देगा।“

उपभोक्ताओं को डीटीएच ऑपरेटरों से अनियमित व्यवहार की रिपोर्ट करने के लिए एक ईमेल आईडी और फोन नंबर भी सौंपा है। ट्राई ने एक बयान में कहा, “यदि कोई डीटीएच / केबल ऑपरेटर वास्तविक विकल्प प्रदान किए बिना पूर्वनिर्धारित पैक खरीदने पर जोर दे रहा है तो ग्राहक ट्राई कॉल सेंटर के नंबर 0120-6898689 पर फ़ोन या das@trai.gov पर ई-मेल कर सकते हैं। “