समाचार
अभिजीत बनर्जी बोले, “गत दो माह से अर्थव्यवस्था में अच्छे संकेत मिले, गरीबी भी घटी”

अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार पाने वाले अभिजीत बनर्जी ने रविवार को कहा, “गत दो महीने से भारतीय अर्थव्यवस्था में कुछ अच्छे संकेत दिख रहे हैं। साथ ही बीते 30 वर्षों में भारत में गरीबी में भारी कमी आई है।”

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में उन्होंने कहा, “भारतीय अर्थव्यवस्था आगे भी सुधरेगी यह नहीं बता सकता क्योंकि ताजा आँकड़े आने वाले हैं। दूसरी तिमाही में देश की आर्थिक विकास दर 4.5 प्रतिशत रही है, जो साढ़े छह साल का निचला स्तर है।”

उन्होंने कहा, “बीते 30 वर्षों में भारत में गरीबी में भारी कमी आई है। 1990 में गरीबी 40 प्रतिशत थी, जो अब घटकर 20 प्रतिशत से भी कम रह गई है। हालाँकि, आबादी बढ़ी है पर गरीबों की संख्या भी कम हुई है।”

अभिजीत बनर्जी ने कहा, “देश के बैंकिंग क्षेत्र पर दबाव है और सरकार प्रोत्साहन पैकेज देकर इसे संकट से बाहर निकालने की स्थिति में भी नहीं है। वाहन क्षेत्र की मांग घटने से पता चलता है कि लोगों में अर्थव्यवस्था को लेकर भरोसे की कमी है।”

उन्होंने देश में फैली गरीबी को लेकर कहा, “गरीबी कैंसर की तरह है। इससे कई तरह की बीमारियाँ पैदा होती हैं। कुछ लोग शिक्षा के मामले में गरीब हैं, कुछ सेहत से और कुछ पूँजी से गरीब हैं। सभी का एक तरह से समाधान नहीं किया जा सकता है।”