समाचार
राम जन्मभूमि- न्यायाधीश की अनुपस्थिति के कारण नहीं होगी 29 जनवरी को सुनवाई

सर्वोच्च न्यायालय में राम जन्मभूमि मामले पर सुनवाई एक बार फिर टली है। 29 जनवरी को होने वाली सुनवाई अब न्यायाधीश एसएस बोबदे की अनुपस्थिति के कारण नहीं हो पाएगी, द इंडियन एक्सप्रेस  ने बताया।

शुक्रवार को पाँच जजों की बेंच का गठन हुआ था जिसमें न्यायाधीश अशोक भूषण और अब्दुल नज़ीर को सम्मिलित किया गया था। उनके अलावा इस बेंच में मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, एसएस बोबदे और डीवाइ चंद्रचूड़ हैं।

इससे पहले 10 जनवरी को होने वाली सुनवाई की बेंच में न्यायाधीश यूयू ललित भी थे जिन्होंने सम्मिलित होना इसलिए अस्वीकार किया था क्योंकि 1997 में इस मामले में ललित कल्याण सिंह के सलाहकार थे।

यह मामला इलाहबाद उच्च न्यायालय के 30 सितंबर, 2010 के निर्णय के विरोध में दायर की गई याचिकाओं पर सुनवाई का है जिसमें 2.77 एकड़ की भूमि को तीन दावेदारों में बराबर रूप से बाँटने का निर्णय सुनाया गया था।