समाचार
छोटे कपड़े पहनकर महिलाएँ नहीं कर सकेंगी लखनऊ इमामबाड़े के दीदार

उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित छोटे और बड़े इमामबाड़े में अब पर्यटक महिलाएँ छोटे और भड़काऊ कपड़े पहनकर नहीं जा सकेंगी। साथ ही पेशेवर फोटोग्राफी और वीडियो शूट पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया। दो सदी पुरानी ऐतिहासिक स्मारकों की पवित्रता को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, शिया समुदाय की लंबे समय से चली आ रही मांगों देखने के बाद जिला प्रशासन ने यह फैसला किया। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कहा, “महिलाएँ स्मारक में छोटे कपड़े पहनकर प्रवेश न करें, इसकी निगरानी की जिम्मेदारी सुरक्षाकर्मियों को सौंपी जाएगी और सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएँगे।”

जिला प्रशासन के साथ हुई बैठक में हुसैनाबाद एलाइड ट्रस्ट और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। यह ट्रस्ट एएसआई द्वारा संरक्षित स्मारक के रूप में घोषित दोनों इमारतों का प्रबंधन करता है।

डीएम ने पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया, “शहर में ऐतिहासिक महत्व के ऐसे स्मारकों में कराए जाने वाले कामों और इन पर अनुमानित खर्च का प्रस्ताव एक साथ तैयार किया जाए। स्मारकों में पर्यटकों की आवाजाही को देखते हुए दो शिफ्ट में सफाई कराई जाए। जरूरत पड़े तो इसके लिए बाहर से भी कर्मचारी जुटाए जाएँ।”