समाचार
ममता की रक्षा में उतरे महागठबंधन पर रक्षा मंत्री का वार, किया सीबीआई का समर्थन

चिट फंड घोटाला मामले के सिलसिले में कोलकाता पुलिस प्रमुख राजीव कुमार के आवास पर पहुँची केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के अधिकारियों को हिरासत में लेने के बाद रविवार शाम (3 फरवरी) को कोलकाता में काफी हंगामा हुआ।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी कार्रवाई में जुट गईं और कोलकाता पुलिस प्रमुख, जो कथित तौर पर फरार थे, सहित विभिन्न व्यक्तियों के साथ ‘संविधान बचाओविरोध पर बैठ गईं।

बाद में शाम की रिपोर्टों में दावा किया गया कि बनर्जी को राहुल गांधी, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, चंद्रबाबू नायडू, मायावती, अरविंद केजरीवाल जैसे महागठबंधन के नेताओं के फोन आए और उन्होंने अपना समर्थन जताया।

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने विपक्ष के इस रवैये पर कटाक्ष करते हुए कहा कि क्या सीबीआई को अपना कार्य करना चाहिए या नहीं? “जब सीबीआई अपना कार्य करती है तो इसे राजनीतिक उद्देश्यों से प्रेरित कहा जाता है, जब नहीं करती है तो इस पिंजरे का पंछी कहा जाता है। उन्हें उनके हिसाब से चलने दिया जाए।”, मंत्री ने कहा।

सीतारमन ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्मंत्री योगी आदित्यनाथ को पश्चिम बंगाल में रैली की अनुमति न मिलने पर भाजपा सर्वोच्च न्यायालय का द्वार खटखटाएगा। उन्हेंने यह भी कहा, “पश्चिम बंगाल में भाजपा की लोकप्रियता से तृणमूल तिलमिलाई हुई है और भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए राज्य में कार्य करना मुश्किल हो रहा है।”