समाचार
पाकिस्तान में डेंटल छात्रा निम्रता कुमारी की दुष्कर्म के बाद हुई थी हत्या- पोस्टमार्टम रिपोर्ट

चंदका मेडिकल कॉलेज अस्पताल (सीएमसीएच) की महिला मेडिको-लीगल अधिकारी (डब्ल्यूएमएलओ) डॉ. अमृता ने बुधवार को निम्रता कुमारी की अंतिम पोस्टमार्टम रिपोर्ट पेश की। इसमें खुलासा हुआ कि हिंदू छात्रा की हत्या करने से पहले उसके साथ दुष्कर्म किया गया था।

पाकिस्तान टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, डब्ल्यूएमएलओ ने अपनी रिपोर्ट में कहा, “निम्रिता की मौत दम घुटने के कारण हुई थी क्योंकि शव परीक्षण के दौरान साँस रुकने से हुई मौत में गर्दन पर कुछ निशान पाए गए। इसके निशान भी जानकारी के साथ मेल खाते हैं। ऐसे में यह पता चलता है कि मौत या तो गला घोंटने या फाँसी देने से हुई थी।”

रिपोर्ट में कहा गया है कि डीएनए परीक्षण में मृतका के कपड़ों पर पुरुष के वीर्य के अवशेषों से स्पष्ट होता है कि उसके साथ जबरन दुष्कर्म करने की कोशिश की गई थी। बीबी असीफा डेंटल कॉलेज (बीएडीसी) में अंतिम वर्ष की छात्रा निम्रता कुमारी चंदानी 16 सितंबर 2019 को अपने छात्रावास के कमरे में रहस्यमयी परिस्थितियों में मृत पाई गई थीं।

खास बात यह है कि पुलिस जाँच से पहले लरकाना शहीद मोहतरमा बेनजीर भुट्टो मेडिकल यूनिवर्सिटी (एसएमबीबीएमयू) के कुलपति डॉ. अनिल अत्ता उर रहमान ने दावा किया था कि मेडिकल छात्रा ने आत्महत्या की है।

मृतका के भाई डॉ. विशाल ने दावा किया था कि उनकी बहन की हत्या की गई थी क्योंकि वह न तो उदास रहती थी ना ही उसकी जिंदगी में ऐसा कुछ चल रहा था, जिसकी वजह से वह खुदकुशी करे। हालाँकि, अब उनका दावा सही साबित हो रहा है।

काफी विरोध के बाद सिंध सरकार ने इस मामले की न्यायिक जाँच के आदेश दिए थे। सिंध उच्च न्यायालय के माध्यम से लरकाना जिला और सत्र न्यायाधीश द्वारा जो जाँच की जा रही है, वह अभी चल रही है।