समाचार
एनआईए को मिली सचिन वाझे की 9 अप्रैल तक रिमांड, सीबीआई भी कर सकेगी पूछताछ

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार (7 अप्रैल) को हिरासत की अवधि खत्म होने पर मुंबई पुलिस से निलंबित अधिकारी सचिन वाझे को विशेष अदालत के सामने पेश किया। इस दौरान जाँच एजेंसी को आरोपी की दो दिन की रिमांड (9 अप्रैल तक) और मिल गई है। साथ ही सीबीआई को भी इस दौरान पूछताछ की अनुमति दे दी गई है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, एनआईए ने सचिन वाझे की 4 दिन की और रिमांड मांगी थी। इसके अलावा, जाँच एजेंसी ने मुंबई पुलिस के निलंबित पुलिस कांस्टेबल विनायक शिंदे और नरेश धारे की न्यायिक हिरासत की भी मांग की थी। दोनों को मनसुख हिरेन हत्याकांड के मामले को लेकर गिरफ्तार किया गया था।

न्यायालय के सामने वाझे के वकील ने आपत्ति जताई कि उसके मुवक्किल को हथकड़ी लगाकर सीएसएमटी स्टेशन ले जाया गया था। साथ ही कहा कि वह वाझे की रिमांड का विरोध नहीं करेंगे। वैसे भी वाझे सीबीआई जाँच में सहयोग के लिए तैयार है।

बता दें कि मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक से भरी कार खड़ी करने, धमकी भरा पत्र देने और मनसुख हिरन की मौत के मामले में सचिन वाझे की कथित भूमिका की जाँच की जा रही है। उसे एनआईए ने 13 मार्च को गिरफ्तार किया था।