समाचार
आतंकवादी गतिविधियों के लिए धन जुटाने के लिए डकैती कर रहे थे, एनआईए ने पकड़ा

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) ने बेंगलुरु की एक विशेष न्यायालय के समक्ष 11 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किए। आरोप है कि आतंकवादी गतिविधियों के लिए धन जुटाने को उन्होंने शहर में चार जगह डकैती डाली थी।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, उनमें से 10 आरोपी पश्चिम बंगाल के हैं, जबकि 11वाँ आरोपी असम का निवासी है।

आरोपियों में पश्चिम बंगाल के नज़ीर शेख, आसिफ इकबाल, जाहिदुल इस्लाम, कदोर काज़ी, हबीबुर रहमान एसके, मोहम्मद दिलवार हुसैन, मुस्ता फिज़ुर रहमान, आदिल शेख, अब्दुल करीम, मुशरफ हुसैन और असम का आरिफ हुसैन है।

एनआईए ने कहा कि वे प्रतिबंधित संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के सदस्य हैं। वे बेंगलुरु और बाहरी इलाकों में चार जगह डैकैती डालकर माल-ए-ग़नीमत के तहत धन जुटा रहे थे।

मुख्य अभियुक्त जाहिदुल इस्लाम जेएमबी का एक प्रमुख नेता है, जिसने उन सभी जगहों का खुलासा किया, जहाँ उसने अपने साथियों के साथ मकान ले रखे थे। जाहिदुल बांग्लादेश में जेएमबी द्वारा 2005 में किए गए सिलसिलेवार विस्फोटों के प्रमुख आरोपियों में से एक है। वह बर्दवान और बोध गया विस्फोट मामलों का मुख्य साजिशकर्ता भी है।