समाचार
एनआईए ने विशाखापत्तनम जासूसी मामले में आईएसआई जासूस गोधरा से किया गिरफ्तार

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) ने विशाखापत्तनम जासूसी मामले में एक अहम आरोपी को सोमवार (14 सितंबर) को गिरफ्तार किया। आरोप है कि उक्त व्यक्ति पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करता था।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारी ने मंगलवार (15 सितंबर) को जानकारी दी कि गुजरात के गोधरा का 37 वर्षीय गितेली इमरान गिरफ्तार किया गया है। उसके खिलाफ कई धाराओं, गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम और सरकारी गोपनीयता अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

एनआईए के प्रवक्ता ने कहा, “इमरान आईएसआई के लिए काम करता है। यह मामला एक अंतरराष्ट्रीय जासूसी रैकेट से जुड़ा है। इसमें पाकिस्तान के जासूसों ने भारत में कई एजेंट भर्ती किए थे। उनका उद्देश्य नौसेना के जहाजों और पनडुब्बियों के स्थानों, आवागमन, अन्य रक्षा प्रतिष्ठानों के बारे में गोपनीय जानकारियाँ एकत्र करना था।”

जाँच में पता चला कि नौसेना के कुछ कर्मचारी सोशल मीडिया ऐप फेसबुक और वॉट्सैप के जरिए पाकिस्तानी एजेंटों के संपर्क में थे। उन्होंने गोपनीय जानकारियाँ साझा की थीं, जिसके बदले उनके खातों में धन जमा करवाया गया था।

एनआईए के अधिकारी ने कहा, “इमरान सीमा पार कपड़ा व्यापार की आड़ में पाकिस्तानी जासूसों या एजेंटों से जुड़ा था। उनके निर्देश पर उसने भारतीय नौसेना के कर्मियों द्वारा प्रदान किए गए संवेदनशील और गोपनीय आँकड़ों के बदले उनके खातों में पैसे जमा करवाए थे।” सोमवार को आरोपी के घर में छापा मारा गया, जहाँ से कुछ डिजिटल साक्ष्य और दस्तावेज़ बरामद किए गए हैं।