समाचार
छुट्टी से लौटे न्यायाधीश, अयोध्या मामले में सुनवाई की तारीख तय
सुप्रीम कोर्ट में पांच बेंच के संविधान ने राम जन्मभूमि – बाबरी मस्जिद मामले पर अगली सुनवाई 26 फरवरी को करने के लिए कहा है।
सर्वोच्च न्यायालय में आयोधया मामले पर सुनवाई पहले 29 जनवरी को होने वाली थी लेकिन न्यायधीश एसए बोबडे के मौजूद ना होने के कारण सुनवाई को रोक दिया गया था। 26 फरवरी को भारत के मुख्य न्यायाधीष रंजन गोगोई, न्यायाधीष एसए बोबडे, डीवाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण और अब्दुल नज़ीर समेत अयोध्या मामले में बेंच पर सुनवाई होगी।
2010 में इलाहबाद हाईकोर्ट ने इस मामले की सुनवाई में अयोध्या की ज़मीन को 3 हिस्सों में बांटा था जिसके दो भाग हिन्दुओं को राम मंदिर बनवाने के लिए मिले थे और एक हिस्सा मुस्लिमों को मस्जिद बनवाने के लिए मिला था। हालांकि इलाहबाद हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद उनके खिलाफ अपील  दायर की गई जिसके बाद अब इस मामले कि सुनवाई सर्वोच्च न्यायालय में की जा रही है।