समाचार
गृह पृथकवास में रह रहे कोरोनावायरस रोगियों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देश

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कोरोनावायरस के हल्के लक्षण या पूर्व लक्षणात्मक रोगियों के लिए गृह पृथकवास के संशोधित दिशानिर्देश जारी किए। अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, अब ऐसे मरीज़ प्रारंभिक लक्षण दिखने के 17 दिन बाद गृह पृथकवास समाप्त कर सकेंगे।

रोगियों के लिए दिशानिर्देश

  • कोरोनावायरस के मरीज़ को हर वक्त तीन परतों वाला मास्क पहनना होगा, जिसे हर आठ घंटे में बदलना होगा। यदि वह गीला या गंदा होता है तो तत्काल बदलें।
  • उपयोग के बाद मास्क फेंकने से पहले उसे 1 प्रतिशत सोडियम हाइपो-क्लोराइट से संक्रमण रहित करें।
  • अपने कमरे में ही रहें। बुजुर्गों और दिल की समस्या वाले लोगों के करीब ना जाएँ।
  • अधिक आराम और अधिक पानी पीने के साथ तरल पदार्थ का सेवन करें।
  • साँस पर नज़र रखने के लिए निर्देशों का पालन करें।
  • साबुन-पानी या फिर अल्कोहोल सैनिटाइजर से करीब 40 सेकेंड तक हाथों को साफ करें।
  • अपनी चीजें साझा न करें।
  • अधिक छूने वाली चीजों को एक प्रतिशत हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन से साफ करें।
  • चिकित्सक के निर्देशों और दवा से जुड़ी सलाह को मानें।
  • अपने स्वास्थ्य की निगरानी खुद करें। प्रतिदिन शरीर के तापमान की जाँच करे। स्थिति बिगड़ने पर सूचित करें।

तीमारदार के लिए दिशानिर्देश

  • रोगी के कक्ष में जाते समय तीन परत वाला मास्क पहनें। मास्क आगे से ना छुएँ। गीला या गंदा होने पर बदलें।
  • अपने चेहरे, नाक या मुंह को ना छूएँ।
  • रोगी के कमरे में जाने के बाद हाथ अच्छे से धोएँ।
  • रोगी के शरीर से निकले फ्लुइड के सीधे संपर्क में आने से बचें। मरीज को संभालते समय हाथों में दस्ताने पहनें।
  • रोगी के बर्तन, पानी, तौलिए और चादर के संपर्क में आने से बचें।
  • रोगी को उसके कमरे में खाना दें।
  • रोगी के बर्तन दस्ताने पहनकर साबुन या डिटर्जेंट से धोएं।
  • ऐसे लोग खुद अपने स्वास्थ्य की निगरानी करें।