समाचार
भारतीय सेना को मिली पहली स्वदेशी तोप, देसी बोफोर्स कहा जा रहा है ‘धनुष’ को

भारतीय सेना को सोमवार (8 अप्रैल) को भारत में बनी पहली तोप मिल गई है, इस तोप को धनुष का नाम दिया गया है। इस तोप की ख़ासियत के कारण इसे ‘देसी बोफोर्स’ भी कहा जाता है। हालाँकि यह तोप तकनीक मारक शक्ति में बोफोर्स तोपों से आगे हैं। भारतीय सेना को मज़बूती देने के लिए 114 धनुष तोपें दी गई हैं, इंडिया टीवी  ने रिपोर्ट किया।

45 कैलिबर और 155 मिलीमीटर की यह तोपें जबलपुर की आर्डिनेंस फैक्ट्री में बनाई गई है और यह बहुत से मायनों में बोफोर्स से बेहतर हैं। अगर मारक शक्ति की बात की जाए तो जहाँ बोफोर्स 29 किलोमिटर तक मार सकती है वहीं अब यह धनुष 38 किलोमिटर की रेंज तक निशाना लगा सकती है। बोफोर्स तोपें मानव संचालित थी और धनुष पूरी तरह से ऑटोमैटिक हैं। बोफोर्स के मुकाबले धनुष काफी तेज़ गति से गोले फेंकती है और इसका बैरल गर्म भी नहीं होता है।

धनुष तोप की कीमत 14 करोड़ 50 लाख रुपए बताई जा रही है और इसका वजन 13 टन के करीब है। इसमें इस्तेमाल किए जाने वाले की गोले की कीमत भी एक लाख रुपए के करीब बताई जा रही है।