समाचार
दिलीप वलसे पाटिल बनेंगे महाराष्ट्र के नए गृह मंत्री, अनिल देशमुख जाएँगे सर्वोच्च न्यायालय

भ्रष्टाचार के आरोप में बॉम्बे उच्च न्यायालय द्वारा सीबीआई जाँच के निर्देश के बाद अनिल देशमुख ने सोमवार (5 अप्रैल) को महाराष्ट्र के गृह मंत्री पद को त्याग दिया है। अब उनकी जगह पर एनसीपी नेता दिलीप वलसे पाटिल को यह जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, राज्य विधानसभा के छह बार सदस्य रह चुके दिलीप वलसे पाटिल वर्तमान में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की कैबिनेट में आबकारी एवं श्रम विभाग के मंत्री का पद संभाल रहे हैं।

गृह मंत्री पद के लिए शरद पवार के करीबी हसन मुश्रिफ का नाम भी इस पद के लिए सामने आ रहा था। वह मुंबई के लिए रवाना भी हो गए थे लेकिन बाद में कहा जा रहा है कि उन्हें श्रम मंत्रालय की जिम्मेदारी दी जा सकती है।

जानकारी यह भी मिल रही है कि मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोपों के बाद बॉम्बे उच्च न्यायालय के निर्णय के खिलाफ अनिल देशमुख सर्वोच्च न्यायालय का रुख कर सकते हैं। एनसीपी प्रमुख शरद पवार से वार्ता के बाद उन्होंने दिल्ली जाने का निर्णय किया है।

बता दें कि डॉक्टर जयश्री पाटिल की याचिका पर बॉम्बे उच्च न्यायालय ने सुनवाई करते हुए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की 15 दिनों के भीतर प्रारंभिक जाँच शुरू करने के लिए कहा है। साथ ही आगे की कार्रवाई का निर्णय लेने का निर्देश भी दिया है।