समाचार
शिवसेना के मुख्यमंत्री और एनसीपी, कांग्रेस के एक-एक उपमुख्यमंत्री पर बनी सहमति

कहा जा रहा है कि नए गठबंधन के रूप में पहली बार शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी एक साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए समझौते पर राज़ी हो गई हैं।

इंडिया टुडे  की रिपोर्ट के अनुसार, सरकार में शिवसेना का मुख्यमंत्री बनने के साथ अन्य दो प्रमुख दलों के उप-मुख्यमंत्री बनने के समझौते को अंतिम रूप दिया गया है।

कांग्रेस और उद्धव की पार्टी को इस व्यवस्था के अनुसार 14-14 मंत्रियों को नियुक्त करना होगा, जबकि एनसीपी के 12 मंत्री होंगे। ये दल अभी तक दो विवादास्पद मुद्दों पर सहमत हुए हैं। इनमें से एक शिवसेना द्वारा वांछित सावरकर के लिए भारत रत्न और दूसरा एनसीपी-कांग्रेस द्वारा 5 प्रतिशत मुस्लिम कोटे की मांग है।

भाजपा-शिवसेना ने गठबंधन के तहत 21 अक्टूबर का विधानसभा चुनाव लड़ा था लेकिन उद्धव ठाकरे द्वारा ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग करने के बाद गठबंधन टूट गया था। भाजपा ने बारी-बारी से मुख्यमंत्री पद रखने वाली मांग को ठुकरा दिया था।