समाचार
एनसीबी ने विदेश भेजी जाने वाली ₹12 करोड़ की प्रतिबंधित दवाएँ बरामद कीं

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने आगरा, दिल्ली, बलिया और हरिद्वार में छापेमारी करके प्रतिबंधित दवाओं का अवैध कारोबार करने वाले गिरोह को पकड़ा है। उनके पास से 12 करोड़ की प्रतिबंधित दवाएँ बरामद की गई हैं और चार लोगों को गिरफ्तार किया गया।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, एनसीबी के निदेशक केपीएस मल्होत्रा ने बताया, “प्रतिबंधित दवाओं को डार्कनेट के माध्यस से खरीदा-बेचा जा रहा था। इन्हें तस्करी कर अमेरिका, बिट्रेन, यूरोप समेत कई देशों में भेजा जाता था। गिरफ्तार किए गए आरोपी बलिया, दिल्ली और आगरा के हैं, जिनके नाम के अग्रवाल, के गोयल, सोमदत्त और मनीष हैं।”

उन्होंने कहा, “एनसीबी ने हरिद्वार में एक दवा कंपनी में छापेमारी कर 30 लाख से अधिक की नशीली दवाइयाँ और 70 हजार खाँसी के सीरप बरामद किए, जिनकी कीमत 12 करोड़ रुपये है। इस पूरे अभियान में तीन महीने का समय लग गया। जाँच में पता चला कि आगरा का कारोबारी के अग्रवाल दवाएँ खरीदता था, जबकि वहीं के दवा विक्रेता के गोयल उसे बेचता था।”

एनसीबी ने बताया कि प्रतिबंधित दवाँ हरिद्वार की एक दवा कंपनी से अवैध तरीके से आ रही थीं, जबकि इनको बलिया का मनीष और दिल्ली का सोमदत्त अपनी पहचान छिपाकर विदेश भेजते थे। ये दवाएँ हर्बल पैकिंग में छिपाकर भेजी जा रही थीं। अब दवा मालिक की तलाश जारी है, जो फरार है।