समाचार
नक्सली हमले में भाजपा विधायक समेत पाँच सुरक्षाकर्मियों की दंतेवाड़ा में मौत

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में माओवादियों ने भाजपा विधायक के काफिले पर हमला कर दिया। इस हमले में विधायक भीमा मंडावी की मौत हो गई। इसके अलावा काफिले में मौजूद तीन सुरक्षकर्मी और एक वाहन चालक की भी मौत हो गई।

सीएनएन न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा विधायक के काफिले पर माओवादियों ने आईईडी विस्फोट के बाद गोलीबारी की थी। पहले मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि विधायक गायब हैं लेकिन बाद में एंटी नक्सल ऑपरेशंस डीआईजी सुंदर राज ने उनकी मौत की खबर की पुष्टि की।

रिपोर्ट में बताया गया कि कथित तौर पर हमला छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा क्षेत्र के कुआकोंडा और स्यामगिरी क्षेत्र के बीच में हुआ है। बताया जा रहा कि माओवादियों ने आईईडी विस्फोट लगभग शाम 4:30 बजे किया था। दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़ की बस्तर लोकसभा क्षेत्र का इलाका है, जहां पर 11 अप्रैल को मतदान कराए जाने हैं। यह हमला दो दिन पहले तब हुआ जब चुनाव प्रचार खत्म होने वाले थे।

इस घटना की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी निंदा की है। उन्होंने ट्वीट किया, “छत्तीसगढ़ में हुए माओवादी हमले की मैं कड़ी निंदा करता हूं। इस हमले में शहीद जवानों के परिवारों के साथ मेरी पूरी संवेदना है। शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। “