समाचार
नवजोत सिंह सिद्धू मुख्यमंत्री पर बरसे, कहा- ‘मुझे अकेले क्यों बनाया जा रहा निशाना’

पंजाब के शहरी विकास मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह पर विभाग छीने जाने के ऐलान के बाद जोरदार प्रहार करते हुए कहा, “मुख्यमंत्री को जो फैसला लेना हो वो लें लेकिन वह विभाग की रिपोर्ट जारी करेंगे।” साथ ही यह भी कहा, “आम चुनाव की हार के लिए अकेले मुझे गलत तरीके से जिम्मेदार ठहराया जाना ठीक नहीं है।”

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने दावा किया कि कुछ लोग उन्हें पार्टी से निकालना चाहते थे। उन्होंने कहा, “हार और जीत सरकार की सामूहिक जिम्मेदारी थी लेकिन उन्हें अकेले ही निशाना बनाया जा रहा है।”

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने निवास पर पत्रकारों से कहा, “कांग्रेस ने 40 साल में बठिंडा में कोई चुनाव नहीं जीता था। मुख्यमंत्री हार गए थे और उनके बेटे (रणइंदर सिंह) को भी 1.25 लाख वोटों से हार मिली थी। मुझे बिना किसी कारण के 7-8 बार निशाना बनाया गया है। मुझे करतारपुर कॉरिडोर पर निशाना बनाया गया। सरकार में 6 से 7 लोग हैं, जो मेरे पीछे जाते हैं, जबकि मैंने कभी किसी का नाम नहीं लिया। इस बार मैं बाहर बोल रहा हूं क्योंकि अब चीजें सिर के ऊपर से निकल गई हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “सरकार में 50 अन्य विभाग और थे लेकिन मुख्यमंत्री केवल उनके खिलाफ ही क्यों बोल रहे हैं। बाकी लोगों के खिलाफ वो क्यों बोलेंगे क्योंकि हर विभाग में महापौर से लेकर अधिकार तक सब उनकी पसंद के रखे गए हैं।”

अपने विभाग के प्रदर्शन पर सिद्धू ने कहा, “जब उन्होंने विभाग का कार्यभार संभाला तो इसका बहुत बुरा हाल था। पिछले दो वर्षों में पंजाब के शहरों में, 5,000 से 6,000 करोड़ के विकास कार्य किए गए हैं।”