समाचार
मुस्लिम भीड़ द्वारा तोड़-फोड़ के बाद “शांति” के लिए नहीं दर्ज हुई एफआईआर

पूर्वी दिल्ली में बुधवार (5 जून) को एक मस्जिद के बाहर कथित तौर पर तेज़ गति की गाड़ी के उनके समीप से गुज़रने पर ईद की प्रार्थना से लौट रही मुस्लिम भीड़ उत्तेजित हो गई।

कथित तौर पर यह कार शाहरुख नामक व्यक्ति ने चुराई थी जो बचने के लिए तोज़ गति से गाड़ी चला रहा था। इसके बाद पुलिस ने िस कार को आनंद विहार से जब्त कर लिया है और युवक पुलिस की हिरासत में है।

इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर वीडियो वाइरल हो गए जिसमें मुस्लिम भीड़ को डीटीसी की बसों से तोड़-फोड़ करते देखा जा सकता है।

पत्रकार राजशेखर झा ने बताया कि स्थिति पर नियंत्रण पा लिया गया है लेकिन कथित रूप से “शांति बनाए रखने के लिए” दिल्ली पुलिस ने मामले की एफआईआर दर्ज करने से मना कर दिया है। न ही पुलिस ने अराजकता फैलाने वालों के विरुद्ध कोई कार्रवाई की है।

पहले भ्रांति फैलाई गई थी कि चुराई गई कार से 17 लोग घायल हो गए हैं लेकिन दिल्ली पुलिस ने इन सभी दावों को खारिज कर दिया।