समाचार
कमलेश की पत्नी ने लगाया बिजनौर के मौलवी पर हत्या का आरोप, तीन संदिग्ध हिरासत में
आईएएनएस - 19th October 2019

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में हुई हिंदू नेता कमलेश तिवारी की हत्या ने नया मोड़ ले लिया है। पत्नी किरण तिवारी का आरोप है कि उनके पति की हत्या के पीछे बिजनौर के एक मौलवी का हाथ है।

उधर, सूरत क्राइम ब्रांच की मदद से गुजरात एटीएस ने मामले में सूरत से तीन संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि राशिद, मोहसिन और फजल नाम के तीन संदिग्धों को पकड़ा है और उनसे अभी पूछताछ की जा रही है। हालांकि, बिजनौर से मौलाना अनवारुल हक की इस मामले में गिरफ्तारी नहीं हुई है।

पुलिस के सूत्रों का दावा है कि पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद कमलेश तिवारी संभवतः आईएसआईएस की हिट सूची में शामिल था।

सूत्रों के अनुसार, 2017 में गुजरात पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए दो संदिग्धों ओबैद मिर्ज़ा और कासिम ने पूछताछ के दौरान खुलासा किया था कि तिवारी उनकी हिट सूची में है। दोनों ने बताया था, “हमें तिवारी का वीडियो दिखाया गया था और उसे खत्म करने को कहा गया था।”

सूत्रों के अनुसार परिवार के लोगों का कहना है कि तिवारी ने अपनी जान को खतरा बताया था और सुरक्षा मांगी थी। उन्होंने इस बारे में ट्वीट भी किया था। वहीं, पुलिस का कहना है, “ऐसा प्रतीत होता है कि हमलावर मृतक के परिचित थे।”

एक अधिकारी ने बताया, “सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, हत्यारों ने तिवारी के साथ करीब 23 मिनट बिताए और उनके साथ चाय पी। उन्होंने चाकू से उसका गला काटा और फिर उस पर ताबड़तोड़ गोलियाँ दागीं। वह घटनास्थल से तभी गए, जब उन्होंने देख लिया कि कमलेश तिवारी मर चुका है।”