समाचार
बुलेट ट्रेन- एलएंडटी का गुजरात में मिट्टी परीक्षण व संयुक्त भूमि सर्वेक्षण शुरू

लार्सन एंड टूब्रो (एलएंडटी) और इसके भू-तकनीकी उप ठेकेदारों ने 508.17 किलोमीटर मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल (एमएएचएसआर बुलेट ट्रेन) के 237.1 किलोमीटर पैकेज सी4 निर्माण के लिए पूरे गुजरात में मिट्टी परीक्षण और संयुक्त भूमि सर्वेक्षणों की शुरुआत की।

मेट्रो रेल गाय की रिपोर्ट के अनुसार, 2017 में परियोजना पर पहले भू-तकनीकी जाँच के निष्कर्षों की पुष्टि के लिए यह अभ्यास किया जा रहा है। पहले के अध्ययन के परिणाम मार्च 2019-अक्टूबर 2020 से पैकेज सी4 की बोली चरण से पहले इच्छुक पक्षों को उपलब्ध कराए गए थे। इसको लेकर जारी मूल्याँकन लाइन की नींव के डिजाइन और निर्माण में सहायता करेगा।

पैकेज सी4 महाराष्ट्र-गुजरात सीमा पर जरोली गाँव से वड़ोदरा स्टेशन तक चार स्टेशनों से होकर गुज़रता है, जिनके नाम वापी, बिलिमोरा, सूरत और भरूच हैं।

यह मुख्य लाइन के आठ पैकेजों में सबसे लंबा है, जिसमें मार्ग का 46.66 प्रतिशत भाग शामिल है। इस पैकेज में सूरत के डिपो निर्माण के साथ 42 सड़क क्रॉसिंग, 14 नदी क्रॉसिंग, छह रेलवे क्रॉसिंग और एक पहाड़ी के माध्यम से 350 मीटर की सुरंग भी शामिल है।

निर्माण उद्देश्यों के लिए एलएंडटी द्वारा कार्यबल और मशीनरी जुटाई जा रही है। महाराष्ट्र सीमा से वड़ोदरा तक चलने वाले पैकेज सी4 और अहमदाबाद के वड़ोदरा को जोड़ने वाले पैकेज सी6 के संरेखण में तीन विशाल कास्टिंग यार्ड सेटअप किए जाएँगे।