समाचार
मुख्तार की पत्नी ने सर्वोच्च न्यायालय से मांगी पति की सुरक्षा, आरोपी बांदा के लिए रवाना

मुख्तार अंसारी की पत्नी ने सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करके अपील की है कि जिस तरह से गैंगस्टर विकास दुबे मामले में उप्र पुलिस का आचरण रहा था, वैसा ही कुछ उनके पति के साथ भी न हो जाए।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, मुख्तार अंसारी की पत्नी अफ्शा अंसारी ने अपनी याचिका में पंजाब के रोपड़ से उत्तर प्रदेश की जेल लाते समय पति की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखने की बात कही है। साथ ही डर जताया है कि कहीं फर्जी मुठभेड़ में उनकी हत्या ना कर दी जाए।

वहीं, बाहुबली विधायक को रोपड़ जेल से लेकर उप्र पुलिस मंगलवार (6 अप्रैल) को बांदा के लिए रवाना हो गई है। सुबह जेल अधिकारियों ने कड़ी सुरक्षा में आरोपी को उप्र पुलिस के सुपुर्द किया। दोपहर 2 बजे टीम मुख्तार को लेकर गेट नंबर-2 से बाहर निकली।

पंजाब की जेल से बाहर निकलते वक्त मुख्तार एंबुलेंस में बैठा नज़र आया था। हरियाणा के रास्ते पूर्वी पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से बागपत होते हुए उसे उत्तर प्रदेश लाया जा रहा है। इसके बाद यमुना एक्सप्रेस-वे के रास्ते इटावा और औरैया होते हुए उसे बांदा जेल लाया जाएगा। एक प्लाटून पीएसी, 10 गाड़ियों, वज्र वाहन और एंबुलेंस के काफिले के साथ उप्र पुलिस उसे बांदा ला रही है।