समाचार
स्ट्रैंड लाइफ साइंसेस में भागीदारी प्राप्त करेगी रिलायंस इंडस्ट्रीज़ की सहायक कंपनी

मुकेश अंबानी की अगुआई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड (आरआईएल) की सहायक कंपनी रिलायंस रणनीतिक व्यापार उद्यम 393 करोड़ रुपये की शुरुआती लागत से स्ट्रैंड लाइफ साइंसेस में बहुमत भागीदारी प्राप्त करेगी।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इसके अतिरिक्त कंपनी मार्च 2023 तक स्ट्रैंड लाइफ साइंसेस में 160 करोड़ रुपये का निवेश भी करेगी।

आरआईएल आर्म 393 करोड़ करोड़ रुपये के नगद प्रतिफल पर स्ट्रैंड लाइफ साइंसेस के 2,28,42,654 इक्विटी शेयर खरीदेगा। अधिग्रहण के बाद आरआईएल की उपरोक्त सहायक कंपनी पूरी तरह से कंपनी में करीब 80.3 प्रतिशत भागीदारी रखेगी।

एक विनिमय फाइलिंग में आरआईएल ने कहा, “उपरोक्त निवेश समूह की डिजिटल स्वास्थ्य पहल का हिस्सा है, जो भारत में विश्व स्तरीय प्रौद्योगिकी और नवाचार के नेतृत्व वाले स्वास्थ्य सेवा पारिस्थितिकी तंत्र तक सस्ती पहुँच को बढ़ावा देता है।”

यह भी गौर किया जाना चाहिए कि अधिग्रहण के लिए किसी सरकारी या नियामक अनुमोदन की आवश्यकता नहीं है।

इससे पूर्व, गत वर्ष आरआईएल ने अपनी खुदरा शाखा के माध्यम से ऑनलाइन दवाएँ बेचने वाली स्टार्टअप नेटमेड्स का भी अधिग्रहण किया था।