समाचार
मप्र- “वंशवाद के कारण मंत्री नहीं”, असंतुष्ट कांग्रेस विधायक पहुँचे दिल्ली

मध्य प्रदेश में मंत्रीमंडल की घोषणा के बाद असंतोष का दौर रुकने का नाम नहीं ले रहा है। निर्दलीय विधायकों के बाद अब कांग्रेस विधायक भी नाराज़गी व्यक्त करते नज़र आ रहे हैं।

बदनावर सीट से कांग्रेस विधायक राजवर्धनसिंह दत्तीगांव ने गुरुवार को आरोप लगाते हुए भास्कर  से कहा, “वंशवाद की राजनीति के कारण उनका अधिकार छीना गया है। मेरे साथ अन्याय हुआ और मैं इसका जवाब इस्तीफा देकर दूँगा। मैं भी अगर किसी पूर्व मुख्यमंत्री या बड़े नेता का बेटा या रिश्तेदार होता तो आज मैं भी मंत्री बन जाता।”

इसके अलावा कांग्रेस के विधायक और वरिष्ठ नेता केपी सिंह, ऐदल सिंह कंसाना और बिसाहूलाल सिंह 10 नेताओं के साथ, अपनी बात कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने रखने गुरुवार (27 दिसंबर) को दिल्ली गए हैं।