समाचार
झारखंड 37.3%, छत्तीसगढ़ 30.2% और तमिलनाडु 15.5% टीका खुराकें कर रहा है व्यर्थ

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आँकड़े बताते हैं कि झारखंड में 37.3 प्रतिशत, जबकि छत्तीसगढ़ में 30.2 प्रतिशत वैक्सीन की बर्बादी दर्ज की गई है। इसी तरह तमिलनाडु में यह प्रतिशत 15.5 है।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रीय वैक्सीन अपव्यय वर्तमान में 6.3 प्रतिशत है। राज्यों से केंद्र द्वारा वैक्सीन अपव्यय को 1 प्रतिशत से कम रखने का आग्रह किया गया है। जम्मू-कश्मीर जैसे राज्यों में टीके की बर्बादी 10.8 प्रतिशत और मध्य प्रदेश में वैक्सीन की बर्बादी 10.7 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत से अधिक वैक्सीन की बर्बादी की रिपोर्ट कर रहे हैं।

भारत सरकार ने अब तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 22 करोड़ से अधिक वैक्सीन की खुराक मुफ्त श्रेणी और प्रत्यक्ष राज्य खरीद श्रेणी के माध्यम से दी हैं।

बुधवार (26 मई) सुबह 8 बजे तक उपलब्ध आँकड़ों के अनुसार, इसमें से अपव्यय सहित कुल खपत 20.13 करोड़ खुराक है। 1.77 करोड़ से अधिक वैक्सीन की खुराक अब भी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें प्रशासित किया जाना है।

इसके अतिरिक्त, 1 लाख वैक्सीन की खुराक कतार में हैं और अगले तीन दिनों में राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को दे दी जाएँगी।