समाचार
“विवाह में 50 और शव यात्रा में 20 से अधिक लोग शामिल नहीं होंगे”- गृह मंत्रालय

लॉकडाउन की स्थिति में विवाह या शवयात्रा में शामिल होने वाले लोगों की अधिकतम संख्या मंगलवार को गृह मंत्रालय ने तय कर दी। विवाह में 50 और शवयात्रा में 20 से अधिक लोगों को शामिल होने की अनुमति नहीं मिलेगी। इस दौरान सामाजिक दूरी और मुँह पर मास्क लगाने के नियम का पालन करना होगा।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, स्वास्थ्य और गृह मंत्रालय की संयुक्त प्रेसवार्ता में गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने कहा, “विदेशों में फंसे भारतीयों की वापसी 7 मई से चरणबद्ध तरीके से होगी।”

उन्होंने बताया, “विदेश में रह रहे भारतीयों की वापसी के लिए मानक संचालन प्रोटोकॉल तैयार कर लिया गया है। इसमें विमानन सेवा के अलावा नौसेना भी सहायता करेगी। उड़ान से पूर्व यात्रियों की स्क्रीनिंग होगी। खाँसी, सर्दी, जुकाम के लक्षण पाए जाने वालों को यात्रा की अनुमति नहीं होगी। भारत आने के बाद यात्रियों को 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया जाएगा।”

संयुक्त सचिव ने बताया, “जिन कार्यालयों में काम होगा वहाँ हैंडवाश, सेनिटाइजर और साफ-सफाई होनी चाहिए। कर्मचारियों का मास्क लगाना ज़रूरी है। सभी का अरोग्य सेतु ऐप पर रजिस्ट्रेशन भी आवश्यक है। कंपनी नज़दीकी कोविड-19 इलाज वाले चिकित्सालयों की सूची रखे और क्वारंटीन के लिए स्थान भी चिह्नित करे।”

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया, “गत 24 घंटे में 1020 लोग ठीक हुए हैं, जिससे ठीक होने वालों की संख्या 12,726 हो गई। अब मरीजों के ठीक होने का प्रतिशत 27.41 हो गया है। देश में अब तक 46,433 लोग संक्रमित मिले हैं। गत 24 घंटे में कोविड-19 के 3900 से अधिक मामले आए और 195 लोगों की मौत हो गई। अब तक कुल 1568 लोगों की जान जा चुकी है।”