समाचार
जापान में 6 अक्टूबर को क्वाड देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक, चीन पर विचार-विमर्श

हिंद प्रशांत महासागर में बढ़ते चीन के प्रभाव को रोकने के लिए चतुष्कोणीय गठबंधन देश (क्वाड) के विदेश मंत्री 6 अक्टूबर को जापान के टोक्यो शहर में कूटनीतिक वार्ता करेंगे। इनमें भारत, जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया शामिल होंगे।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, जापान के मीडिया ने विदेश मंत्री तोशिमित्सु मोतेगी के हवाले से बताया, “बैठक में हिंद प्रशांत क्षेत्र के भीतर शांति, सुरक्षा, स्थिरता और समृद्धि को बढ़ाने के तौर-तरीकों पर वार्ता की जाएगी।”

जापान के विदेश मंत्री ने बताया, “यह बेहतर समय है, जब चारों देशों के विदेश मंत्री क्षेत्रीय मामलों में समान महत्वाकांक्षाओं को साझा करें और विभिन्न चुनौतियों पर विचार विमर्श करें। इस दौरान वे प्रत्येक समकक्ष से द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे। दुनिया में स्वतंत्र और खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र के दृष्टिकोण का मूल्य बढ़ा है और क्वाड देश इसे साकार करने में बड़ा कदम उठा सकते हैं।”

बैठक में भारत के एस जयशंकर, अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और ऑस्ट्रेलिया के मारिज पायने शामिल होंगे। कोविड-19 के बाद से टोक्यों में यह पहला मंत्रीस्तरीय सम्मेलन होगा।

उधर, अमेरिका ने चीन में कंप्यूटर चिप्स बनाने के लिए सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चिरिंग इंटरनेशनल कॉरपोरेशन (एसएमआईसी) के निर्यात पर नये प्रतिबंध लगा दिए हैं। ये प्रतिबंध चीनी सेना द्वारा इन चिपों के इस्तेमाल का खतरा बताते हुए अमेरिकी वाणिज्य मंत्रालय ने लगाए हैं।