समाचार
“अरविंद केजरीवाल पलायन न करने की अपील के नाम पर बस नाटक करते”- मायावती

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उस बयान को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने नाटक करार दिया है, जिसमें उन्होंने प्रवासी मजदूरों से पलायन ना करने की अपील की थी। उन्होंने शनिवार (8 मई) को कहा, “यही नाटक कोविड-19 के पहले दौर में भी किया गया था।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, इसके अतिरिक्त मायावती ने पूरे देश में गरीबों, दलितों और आदिवासियों को निःशुल्क कोरोना वैक्सीन लगाने और उनकी आर्थिक मदद की जाने की मांग की है।

मायावती ने ट्वीट किया, “केवल हाथ जोड़कर दिल्ली मुख्यमंत्री का कहना कि लोग पलायन न करें, यही नाटक कोरोना के पहले दौर में भी किया गया था। ये सब अब महाराष्ट्र, हरियाणा व पंजाब आदि राज्यों में भी देखने के लिए मिल रहा। पंजाब में लुधियाना से भी लोग काफी पलायन कर रहे हैं, यह अति दुःखद है।”

उन्होंने आगे कहा, “अगर इन राज्यों की सरकारें लोगों में भरोसा पैदा करके उनकी आवश्यकताओं को समय से पूरा कर देतीं तो लोग पलायन न करते। राज्य सरकारें अपनी कमियों को छिपाने के लिए अलग-अलग तरह की नाटकबाजी कर रही हैं। यह किसी से छिपा नहीं है।”