समाचार
“सात सीटें छोड़कर भ्रम न फैलाए कांग्रेस”, मायावती ने फिर कहा नहीं होगा गठबंधन

कांग्रेस की इस घोषणा के बाद कि वह उत्तर प्रदेश में गठबंधन के लिए सात सीटें छोड़ रहे हैं, बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती का ट्विटर पर सख्त रूप देखने को मिल रहा है। मायावती ने यह साफ़ कर दिया है कि वह उत्तर प्रदेश सहित देश के किसी भी राज्य में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं कर रहीं हैं।

मायावती का कहना है कि वह राज्य में अकेले ही भाजपा को हराने में सक्षम है। साथ ही उन्होंने कांग्रेस को यह संदेश भी दिया है कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी 80 सीटों पर स्वतंत्र रूप से चुनाव लड़ सकती है। उन्होंने कांग्रेस को चेतावनी दी है कि वह जनता तक किसी भी प्रकार की गलत सूचना न पहुँचाए कि वह बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन कर रहे हैं।

लखनऊ में 17 मार्च को उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राज बब्बर ने एक प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए सात सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारेगी। कांग्रेस इन सीटों को सपा-बसपा के गठबंधन के लिए छोड़ रही है। इन सीटों में मैनपुरी, कन्नौज, आजमगढ़, फ़िरोज़ाबाद, मुज़फ्फर नगर और मथुरा शामिल हैं।