समाचार
मायावती ने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी के पास जाते हैं भाजपा नेता तो डरती हैं पत्नियाँ’

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) प्रमुख मायावती ने फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, “भाजपा नेताओं की पत्नियाँ डरती हैं कि कहीं मोदी अपनी तरह उन्हें भी पतियों से अलग न करवा दें।”

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, मायावती ने अलवर सामूहिक दुष्कर्म मामले में कहा, “नरेंद्र मोदी ने इस मामले में चुप्पी साधी हुई थी। वह इस मुद्दे पर गंदी राजनीति करने की कोशिश कर रहे हैं। यह शर्मनाक है। वह कैसे किसी बहन, बेटी या पत्नी की इज्जत कर सकते हैं, जब रानीतिक फायदे के लिए उन्होंने अपनी ही पत्नी को छोड़ दिया था।”

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, “मुझे तो यह भी पता चला है कि भाजपा में खासकर विवाहित महिलाएँ अपने आदमियों को मोदी के नजदीक जाते देखकर यह सोचते हुए घबराती हैं कि कहीं यह मोदी अपनी औरत की तरह हमें भी अपने पति से अलग न करवा दे।”

उधर, भाजपा ने बसपा प्रमुख के हमले पर पलटवार करते हुए कहा, “आखिरी नरेंद्र मोदी से इतनी घृणा क्यों? क्या इसलिए कि उन्होंने परिवार से ज्यादा देश को अपना परिवार माना है।” प्रधानमंत्री मोदी ने एक रैली में कहा था, “अलवर में एक दलित बेटी का उत्पीड़न हुआ लेकिन मायावती ने अब तक राजस्थान सरकार से समर्थन वापस नहीं लिया।”

इस पर मायावती ने कहा, “रोहित वेमुला मामले में तो अपने केंद्रीय मंत्री से इस्तीफा नहीं लिया। इस वजह से उन्हें कोई सलाह देने का अधिकार नहीं है। हमारी पार्टी अपने पीड़ित लोगों को न्याय दिलाने के लिए हमेशा आगे रहती है।” उन्होंने कांग्रेस को चेतावनी भी दी कि अगर अलवर मामले में उचित कार्रवाई नहीं हुई तो कांग्रेस से समर्थन वापस भी लिया जा सकता है।