समाचार
जापान- कोरोनावायरस संक्रमित लोगों वाले क्रूज़ में कई भारतीय पर कोई बीमार नहीं

कोरोनोवायरस के प्रकोप की वजह से यात्रियों से भरा एक क्रूज़ जापान से अलग कर दिया गया है। इसमें कुछ भारतीय चालक दल और यात्री भी मौजूद हैं।

शुक्रवार (7 फरवरी) को एक ट्वीट में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, “कई भारतीय चालक दल और कुछ भारतीय यात्री कोरोनावायरस की वजह से जापान से अलग कर दिए गए जहाज डायमंड प्रिसेज में हैं। टोक्यो के भारतीय दूतावास की जानकारी के अनुसार, जहाज में किसी भारतीय में वायरस के सकारात्मक परिणाम नहीं मिले हैं। हम इस मामले को करीब से देख रहे हैं।”

इससे पूर्व, जापान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने पुष्टि की कि योकोहामा के तट से डायमंड राजकुमारी जहाज पर कोरोनवायरस के परीक्षण में 61 लोग इससे संक्रमित मिले हैं। अधिकारियों के अनुसार, इनमें से 28 मरीज जापान के, 11 अमेरिका के, 7-7 ऑस्ट्रेलिया व कनाडा के, तीन चीन के और यूके, न्यूजीलैंड, ताइवान, फिलीपींस व अर्जेंटीना के एक-एक मरीज हैं।

मंत्रालय ने बाकी यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को वायरस से बचने के लिए जहाज पर कम से कम 14 दिनों के लिए बने रहने को कहा है। साथ ही यह भी कहा कि वे ज्यादातर अपने कमरों में ही रहें।

जहाज में कुल मिलाकर लगभग 2,700 यात्री और 1,000 चालक दल है, जो 56 देशों से आते हैं। जहाज 20 जनवरी को योकोहामा से रवाना हुआ था और दक्षिण-पश्चिम जापान में ओकिनावा और कागोशिमा से गुजरा था।