समाचार
मनीष सिसोदिया का दावा- दिल्ली में माँग घटने से बच रही ऑक्सीजन, दूसरे राज्यों को देंगे

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दावा किया कि दिल्ली में मांग की अपेक्षा ऑक्सीजन अब शेष भी बच रही है। उन्होंने कहा कि मूल्यांकन के बाद पाया गया कि दिल्ली की वर्तमान दैनिक तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की मांग घटकर 582 मीट्रिक टन (एमटी) हो गई है।

उन्होंने कहा, “आज कोविड -19 स्थिति के आकलन के बाद दिल्ली की ऑक्सीजन की आवश्यकता प्रतिदिन 582 मीट्रिक टन हो गई है। एक जिम्मेदार सरकार के रूप में हम उन राज्यों को बची हुई ऑक्सीजन देंगे, जिनको आवश्यकता है।”

रिपोर्टों के अनुसार, मनीष सिसोदिया ने कहा, “दिल्ली की ऑक्सीजन की मांग प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन से घट गई है। अस्पताल के बिस्तर भी खाली हो गए हैं। हमने केंद्र सरकार को पत्र लिख कर कहा है कि हमारा काम प्रतिदिन 582 मीट्रिक टन ऑक्सीजन के साथ हो जाएगा। वे दिल्ली के कोटे से बची हुई ऑक्सीजन दूसरे राज्यों को दे सकते हैं।”

सर्वोच्च न्यायालय ने हाल ही में केंद्र को अगले आदेश तक दिल्ली को 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति करने का आदेश दिया था। वहाँ ऑक्सीजन की आपूर्ति, वितरण और उपयोग का ऑडिट करने के लिए एक पैनल भी गठित किया था।