समाचार
ममता के बयान पर ओवैसी का जवाब- “पश्चिम बंगाल में है मुसलमानों की खराब स्थिति”

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने हाल ही में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन (एआईएमआईएम) पर यह कहते हुए निशाना साधा था कि मुसलमानों को हैदराबाद में अपना आधार रखने वाले चरमपंथियों से दूर रहना चाहिए। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, अब इस पर पार्टी के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया है।

कूच बिहार में अपने भाषण के दौरान ममता बनर्जी ने एआईएमआईएम और भाजपा दोनों पर मुस्लिम समुदायों के बीच विभाजन करने का आरोप लगाया था।

ओवैसी ने कहा, “बंगाल के मुसलमानों का किसी भी अल्पसंख्यक के मानव विकास सूचकांकों में सबसे खराब में से एक होना धार्मिक कट्टरता को दर्शाता है। ममता सरकार मुस्लिम समुदाय को शिक्षा और आरक्षण में पर्याप्त हिस्सेदारी न देकर चरमपंथी को बढ़ावा दे रही है।”

एआईएमआईएम प्रमुख ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि कैसे बंगाल में मुस्लिमों के तृणमूल कांग्रेस को वोट देने के बावजूद भाजपा आम चुनाव में राज्य की 42 में से 18 सीटें जीतने में कामयाब रही थी।

हाल के वर्षों में एआईएमआईएम ने हैदराबाद से नए राज्यों में अपने पारंपरिक राजनीतिक आधार का विस्तार करने की कोशिश की है और अक्सर उन दलों के हमले के शिकार हुए हैं, जिन्हें पारंपरिक रूप से उन जगहों पर मुस्लिम वोट मिले थे।